प्रसिद्ध वैज्ञानिक / Famous Scientists

आइजक न्यूटन | Isaac Newton in Hindi

आइजक न्यूटन | Isaac Newton in Hindi

आइजक न्यूटन Isaac Newton

गुरुत्वाकर्षण सिद्धांत का प्रतिपादक आइजक न्यूटन (Isaac Newton)| न्यूटन महान वैज्ञानिक था तो भी उसे अभिमान छू न सका था | उसने कहा था, “यदि मैं विज्ञान के क्षेत्र में आगे कुछ भी देख सकता हूं तो अपने पूर्वज दिग्गजों के कंधों पर खड़े होकर ही” |

न्यूटन एक बार बाग में बैठा था कि एक सेब नीचे गिरा | उसने सोचा कि सेव नीचे ही क्यों गिरा जबकि चांद नीचे नहीं गिरता | उसने परिणाम निकाला कि जो नियम था सिद्धांत पृथ्वी पर लागू होते हैं, वह ब्रह्मांड के अन्य भागों पर भी लागू होते हैं | यही घटना थी जिसने न्यूटन को विचार करने पर विवश किया और गुरुत्वाकर्षण का सिद्धांत निकाला |

पहले लोगों का विचार था कि आकाश में दिखाई देने वाले चांद सितारे किसी दैवी शक्ति के सहारे एक नियम में बंधे घूम रहे हैं परंतु न्यूटन ही प्रथम व्यक्ति था जिस ने बताया कि सब चीजें एक दूसरे के प्रति आकर्षण में कैसे बंधी हैं | इसी आकर्षण का गुरुत्वाकर्षण कहते हैं | जब हम कहते हैं कि अमुक वस्तु नीचे गिरी तो बच्चा भी यह समझता है और अनुमान लगाता है कि वह धरती पर या धरती की ओर ही गिरी होगी | न्यूटन ने बताया कि यह पृथ्वी की गुरुत्वाकर्षण शक्ति है और इसी आकर्षण के कारण पृथ्वी के दूसरी ओर स्थित ऑस्ट्रेलिया में चीजें या व्यक्ति उल्टे नहीं गिरते | यह पृथ्वी की आकर्षण शक्ति का करिश्मा है |

न्यूटन ने अनेक दिशाओं में कार्य किया | उन्होंने प्रिज्म के प्रयोग से बताया कि श्वेत प्रकाश अनेक रंगों का मिश्रण है | बरसात के दिनों में वायु में उड़ते पानी के कारणों पर जब सूर्य की किरणें पड़ती है तो अनेक रंग झिलमिलाते दिखाई देते हैं |

न्यूटन का जन्म 1642 में इंग्लैंड के वुल्सथ्राप नामक गांव में हुआ | कैंब्रिज में शिक्षा प्राप्त करते समय लंदन में प्लेग फैलने पर उन्हें अपनी माता के फार्म पर रहना पड़ा और उन्होंने वहीं पर अनेक परीक्षण किया | उन्होंने एक अच्छी दूरबीन भी तैयार की जिसमें लेंसों के स्थान पर दर्पण का प्रयोग किया गया था | इसलिए इसमें वस्तुएं प्रतिबिंबित होकर दिखाई देती थी |

न्यूटन ने अपने सिद्धांतों गति और गुरुत्वाकर्षण के संबंध में एक पुस्तक “प्रिंसिपिया मैथमैटिका” लिखी | इसमें उन्होंने ग्रहों, उपग्रहों और उल्काओं को गति का सही निरूपण किया | उन्होंने ‘ऑप्टिक्स’ आदि अन्य पुस्तकें भी लिखी | अंतिम दिनों विज्ञान के साथ वह राजनीति में भी रुचि लेने लगे थे | उन्हें शाही टकसाल का संरक्षक नियुक्त किया गया | न्यूटन ऐसे प्रतिभाशाली व्यक्ति थे, जिन्होंने अनेक दिशाओं में काम किया | वहीं ब्रिटेन के पहले वैज्ञानिक थे जिन्ह ‘सर’ का खिताब दिया गया | 1727 में देहांत होने पर न्यूटन को वेस्टमिंस्टर गिरजाघर में दफनाया गया |

प्रसिद्ध वैज्ञानिक – महत्वपूर्ण लिंक

Disclaimersarkariguider.com केवल शिक्षा के उद्देश्य और शिक्षा क्षेत्र के लिए बनाई गयी है। हम सिर्फ Internet पर पहले से उपलब्ध Link और Material provide करते है। यदि किसी भी तरह यह कानून का उल्लंघन करता है या कोई समस्या है तो Please हमे Mail करे- sarkariguider@gmail.com

 

About the author

Kumud Singh

M.A., B.Ed.

Leave a Comment

error: Content is protected !!